डॉ. अब्दुल कलाम के अनमोल विचार जो आपको प्रेरणा से भर देंगे।


डॉ एपीजे अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को तमिलनाडु के रामेश्वरम में हुआ था। उनका पूरा नाम आबुल पकिर जैनुल आबेदीन अब्दुल कलाम था। उनके पिता का नाम अबुल पाकिर जैनुल आबेदीन था, जो एक नाविक थे तथा माता आशिअम्मा  एक गृहिणी थीं। डॉक्टर अब्दुल कलाम को भारत का "मिसाइल मैन" के नाम से भी जाना जाता है। आप एक उत्कृष्ट वैज्ञानिक, अभियंता और इंजीनियर थे। आपने इसरो(ISRO), डीआरडीओ(DRDO) आदि उत्कृष्ट संस्थानों में कई वर्षों तक व्यवस्थापक के रूप में कार्यभार संभाला। आपका मिसाइल विकाश कार्यक्रम के क्षेत्र में योगदान अद्वितीय है। आप कई वर्षों से युवाओं के प्रेरणास्रोत बने हुए हैं। आपने पृथ्वी, अग्नि जैसे मिसालों के निर्माण किया। 


डॉ. अब्दुल कलाम के अनमोल विचार जो आपको प्रेरणा से भर देंगे।


कलाम के प्रेरणादायक अनमोल विचार। 
सफलता की कहानियां मत पढ़ो उससे आपको केवल एक संदेश मात्र मिलेगा, बल्कि असफलता की कहानियां पढ़ो जिससे आपको सफल होने के बेहतरीन आइडियाज मिलेंगे।


शिखर तक पहुंचने के लिए ताकत की आवश्यकता होती है, चाहे वह माउंट एवरेस्ट का शिखर हो या आपके जीवन का।


इससे पहले कि सपने सच हों आपको सपने देखने होंगे।


एक मूर्ख जीनियस बन सकता है, यदि वह समझे कि वह मूर्ख है। लेकिन एक जीनियस मूर्ख बन सकता है, यदि वह समझे कि वह एक जीनियस है। 


महान सपने देखने वालों के महान सपने हमेशा पूरे होते हैं।


बारिश होने पर सभी पक्षी आसरा ढूंढते हैं और सबसे अलग बाज उन्ही बादलों से ऊपर उड़ता है। समस्याएं तो सभी के सामने आती हैं, लेकिन फर्क इस बात का पड़ता है कि आप उनका सामना कैसे करते हैं।


इंतजार करने वालों को सिर्फ उतना ही मिलता है, जितना कोशिश करने वाले छोड़ दिया करते हैं।


कृत्रिम सुख की बजाय उपलब्धियों के पीछे समर्पित रहिए।


आकाश की तरफ गौर कीजिए, हम अकेले नहीं हैं सारा ब्रह्मांड हमारे लिए अनुकूल है, यह सपने देखने और मेहनत करने वालों के लिए उन्हें प्रतिफल देने की साजिश करता है।


एक महान लक्ष्य बनाया जाए, ज्ञानार्जन किया जाए, कड़ी मेहनत की जाए और दृढ़ रहा जाए। यदि आप इन चार बातों का पालन करते हैं तो आप कुछ भी हासिल कर सकते हैं।


आत्मविश्वास और कड़ी मेहनत असफलता नामक बीमारी को मारने की सबसे विश्वसनीय दवा है, यह आपको सफलता की ओर ले जाती है।


मुझे समुद्र से प्रेम है।


एक अच्छी पुस्तक हजार दोस्तों के बराबर होती है, जबकि एक अच्छा दोस्त एक लाइब्रेरी के बराबर होता है।


जिंदगी और समय इस दुनिया के सबसे बड़े अध्यापक हैं। जिंदगी हमें समय का सही उपयोग करना सिखाती है, इसके साथ समय हमें जिंदगी की उपयोगिता बताता है।


छोटा लक्ष्य अपराध है।


भगवान ने हमारे मस्तिष्क और व्यक्तित्व में असीमित क्षमताएं दी हैं, ईश्वर की प्रार्थना इन शक्तियों का विकसित करने में मदद करती हैं।


जब आपके हस्ताक्षर, ऑटोग्राफ में बदल जाएं तो यही सफलता की निशानी है।


देश का सबसे अच्छा दिमाग क्लास रूम की अंतिम बेंच पर मिल सकता है।


कोई भी हमारा आदर नहीं करेगा जब तक हम स्वतंत्र नहीं हैं।


कठिनाइयां आवश्यक है क्योंकि इनके बिना आप सफलता का आनंद नहीं उठा सकते।


भविष्य में सफलता पाने के लिए रचनात्मकता सबसे महत्वपूर्ण है। और प्राथमिक शिक्षा वह समय है जब शिक्षक-गण बच्चों में रचनात्मकता ला सकते हैं।


पक्षी अपने ही जीवन और प्रेरणा द्वारा संचालित हुए होते हैं।


किसी विद्यार्थी की सबसे जरूरी विशेषताओं में से एक है; प्रश्न पूछना। विद्यार्थियों को प्रश्न पूछने से मत रोकिए।


मैं एक पायलट से अधिक और कुछ भी नहीं बनना चाहता था पर शायद तकदीर ने कुछ और ही प्लान कर रखा था।


क्या हम यह नहीं जानते कि आत्म निर्भरता के साथ ही आत्म सम्मान दस्तक देता है।


मुझे इस बात का पक्का यकीन है कि, जब तक किसी ने नाकामयाबी की कड़वी गोली ना खाई हो, वह व्यक्ति कामयाबी के लिए पर्याप्त महत्वाकांक्षा नहीं रख सकता।


अगर सूरज की तरह चमकना है तो सूरज की तरह जलना होगा।


मेरा नजरिया है कि हम जवानी के समय अधिक आशावादी और कल्पनाशील होते हैं। और दूसरे से ज्यादा प्रभावित नहीं होते।


विज्ञान मानवता के लिए सबसे खूबसूरत तोहफों मैं से एक है, हमें इसे बिगड़ने नहीं देना चाहिए।


महान शिक्षक ज्ञान, जुनून और करुणा से बने होते हैं।


भगवान केवल उन्हीं की मदद करते हैं जो कड़ी मेहनत करते हैं।


युद्ध किसी भी समस्या का स्थाई हल नहीं है।


हमें चाहिए कि हम युवाओं को नौकरी चाहने वालों की बजाए नौकरी देने वाला बनाएं।


कोई भी राष्ट्र जो हथियार युक्त देशों से घिरा हो तो उसे भी हथियार युक्त होना होगा। 


हमें समस्याओं से कभी नहीं हारना चाहिए और ना ही प्रयत्न करना छोड़ना चाहिए।


अपने लक्ष्य में कामयाब होने के लिए एकत्रित होकर निष्ठावान होना होगा।


आप अपना भविष्य नहीं बदल सकते पर अपनी आदतें जरूर बदल सकते हैं, विश्वास कीजिए आपकी आदतें आपका भविष्य बदल देंगी।


मैं इस बात को स्वीकार करता था कि मैं कुछ चीजें नहीं कर सकता।


उत्कृष्टता कोई दुर्घटना नहीं बल्कि लगातार चलने वाली प्रक्रिया है।


कविता असीमित खुशी या गहरे गम से निकली होती है।

अंग्रेजी हमारे लिए आवश्यक है, क्योंकि वर्तमान में विज्ञान के सभी मूलभूत कार्य अंग्रेजी में होते हैं। मुझे विश्वास है कि अगले कुछ ही दशकों में विज्ञान के मूल कार्य हिंदी में उपलब्ध होंगे तब हम जापान की तरह ही आगे बढ़ेंगे।

दोस्तों आपको कलाम जी का कौन सा प्रेरणादायक विचार सबसे अच्छा लगा हमें एक बार कमेंट में जरूर बताएं।
यदि आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो कृपया अपने दोस्तों और करीबियों को भी शेयर करें।
धन्यवाद !

Post a Comment

4 Comments